गेहूं के बड़े-बड़े और चमकीले दानों का राज।

नमस्कार किसान भाइयों स्वागत है आप सभी का हमारी एक और नई पोस्ट में आज हम आपको बताने वाले हैं। गेहूं में बड़े-बड़े वजन दार दानों का राज। किसान भाइयों आपको पता होगा और आपने देखा भी होगा कि बहुत सारे गेहूं के दाने बहुत बड़े बड़े होते हैं और चमकीले होते हैं। तो उनका राज क्या है?

किसान भाइयों आप मंडी में अपनी फसल को बेचने के लिए जाते होंगे और वहां पर आपको जब गेहूं की बहुत ही अच्छी वैरायटी देखने को मिलती होगी|जिसके दाने भी बहुत बड़े बड़े होते हैं, और चमकीले होते हैं,वजनदार होते हैं, तो आपके मन में भी आता होगा कि काश आपके गेहूं भी ऐसे ही निकलते।

तो अब आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं है। आज की इस पोस्ट में हम आपको इसका ही उपाय बताने वाले हैं।

समय रहते करे ये उपाय-

किसान भाइयों सबसे महत्वपूर्ण बात है कि गेहूं के अंदर जब भी दाना भराव का समय चल रहा होता है। उस समय आपको अपनी गेहूं की फसल को पानी लगाना बहुत जरूरी है।

इससे क्या होता है कि आपकी गेहूं के अंदर दाना भराव अच्छे से होता है| दाना छोटा नहीं रहता है दाना अपना पूर्ण आकार लेता है| और बाली के अंदर मौजूद सभी दाने एक समान एक आकार के बनते हैं। इससे आपके गेहूं की पैदावार में बढ़ोतरी होती है।

दाने चमकीले और वजनदार कैसे करें?

किसान भाइयों अब बात करते हैं कि गेहूं की फसल में जो दाने बन रहे हैं उनको चमकदार कैसे बनाएं और वजनदार कैसे बनाएं? क्योंकि गेहूं के दानों का चमकदार होना भी बहुत जरूरी है और वजनदार होना भी बहुत जरूरी है। गेहूं के दानों में जितना ज्यादा वजन रहेगा उतना ही किसानों को इससे ज्यादा मुनाफा मिलता है। गेहूं के दाने जितने ज्यादा चमकदार होते हैं मंडी के अंदर वह उतने ही ऊंचे भाव में बिकते हैं।

NPK 00 00 50

किसान भाइयों गेहूं मैं जब भी दाना भराव का समय चल रहा होता हे उस समय आपको अपनी गेहूं की फसल पर एनपीके 0 0 50 का स्प्रे करना है।

क्या है एनपीके और क्या काम करेगा?

किसान भाइयों एनपीके नाइट्रोजन, फास्फोरस और पोटाश का शॉर्ट फॉर्म है। NPK 0 0 50 में। नाइट्रोजन और फास्फोरस नहीं होती हैं। इसके अंदर केवल पोटाश की 50% मात्रा होती है।

किसान भाइयों गेहूं की फसल के अंदर पोटाश बहुत ही महत्वपूर्ण पोषक तत्व है। पोटाश की कमी की वजह से गेहूं के दाने ना तो वजनदार बनते हैं और ना ही चमकदार बनते हैं। पोटाश की सही बराबर मात्रा गेहूं की फसल को मिलती है तो फसल अपना बंपर उत्पादन किसानों को देती।

अगर आप अपनी गेहूं की फसल में एनपीके 0 0 50 का स्प्रे करते हो तो आप की फसल को पत्तों से सीधा पोटाश मिल जाएगा। जिससे आपकी गेहूं के अंदर दाना अच्छा भराव होगा दाना चमकदार बनेगा और दाना वजनदार बनेगा और आपको पैदावार में काफी ज्यादा लाभ मिलेगा।

कितना करें एनपीके 0 0 50 का स्प्रे?

किसान भाइयों हम आपको यहां पर बता दें कि एनपीके 0 0 50 का स्प्रे आपको अपनी गेहूं की फसल में 130 लीटर पानी में 1 किलो एनपीके 0 0 50 को मिलाकर करना है।

जिससे आपकी गेहूं की फसल को पोटाश सीधा मिलेगा और आपको पैदावार में काफी ज्यादा लाभ मिलेगा।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *